यह कहानी मेरी और मेरे साथ काम करने वाली शिखा की है जो मेरे ही ऑफिस में काम करती थी, हम दोनों ने नए थे तो कंपनी ने हम दोनों को ट्रेनिंग के लिए जयपुर भेज दिया।