दोस्तों आज मै अपनी सच्ची घटना बता रहा हूँ यह पिछले महीने की बात है, मैं ट्रेन से अपने गाँव जा रहा था। ट्रेन में काफी भीड़ थी इसलिए मुझे सीट नहीं मिली। मैं जाकर ट्रेन के