-

सविता भाभी का WhatsApp यहाँ से डाउनलोड करो और बाते करे पूरी नाईट सेक्सी भाभी से [Download Number ]

ब्रा खरीदने आई एक रांड की कहानी

एक कहानी श्रद्धा नाम की लड़की की है, वो एक भरी हुई लड़की है और उसका फिगर है ३६-३०-३८. उसकी बड़ी तरबुच जैसी चुंचिया हाय हाय और उसकी मस्त मोटी गांड किसी का भी लंड तोड़ दे.

एक बार श्रद्धा एक शॉप पर जाती है जहां से वह हमेशा ब्रा पैंटी लेती है. वो वहां जाकर उस दुकानदार से ब्रा दिखाने को कहती हैं, वो उसे साइज़ पूछता है और उसका जवाब मिलता है ३६. फिर वह एक ब्रा देता है सेक्सी सा जो की एक्सपोज ज्यादा करेगा कवर करने से, और वह इसे टट्राई करने को कहता है, श्रद्धा चेंजिंग रूम में जाकर ट्राई करती है और वो उसे टाइट होता है. वह दूसरा ब्रा मांगती है जो कि थोड़ा ढीला हो.,पर फिर जब वह ट्राई करती है वह भी उसे टाइट होता है.

फिर वो दुकानवाला श्रद्धा को कहता है कि मैं सही नाप ले कर आपको सही फिटिंग की ब्रा दे देता हु. जिस पर श्रद्धा थोड़ा गभरा तो जाती है पर मान जाती है, अब दुकानदार उसके बड़े मम्मे को नापने लगता है और इधर उधर बहाने से छूने और दबाने लगता है. कही ना कही श्रद्धा को भी मजा आने लगता है. फिर अचानक से दुकानदार कहता है कि मेम सही नाप नहीं आ पा रहा, आप क्या अपनी टॉप उतार सकते हो?

इस पर श्रद्धा शोक हो जाती हे और कहती हे आप क्या बोल रहे हो? तब दुकान दारमें समजाता है की मैडम यह हमारा रोज का काम है और हम प्रोफेशनल हैं, जिससे श्रद्धा को भी लगता है कि दुकानदार की बात तो सही है, तो वह फाइनली रेडी हो जाती है. तो जैसे ही श्रद्धा अपना टॉप उतारती है उस के तरबूज बाहर लटकने लगते हैं, मानो जैसे जेल से कैदी निकले हो.

इन लटकते हुए सामान को देख दुकानवाले का लंड में फंफाने लगता है और वह पूरा मन बना लेता है इस लड़की को रंडी की तरह चोदने का. अब वह फिर से नाप लेने लगता है और अब वह पहले से भी ज्यादा जोर से यहा वहा दबाने लगता है, एकाद बार निपल को पकड़कर खिंचता है सही नाप लेने के लिए श्रद्धा अब तक मदहोश हो चुकी होती है और वह दुकानदार को रोकने के किसी मूड में नहीं है.

दुकानदार कहता है मैडम यह टाइट लग रहे हैं उनको जरा मसाज कर के इनको इनके शेप में ले आता हूं, फिर एक दम सही नाप आएगी. जिस पर मदहोश श्रद्धा बस अपना सर हिला देती है. फिर क्या? दुकानदार पागलों की तरह दोनों तरबूज जैसी चूची को दबाने लगता है वह उन्हें खूब मसलता है, श्रद्धा भी रंडी की तरह खूब इन्जोय कर रही होती है. फाइनली एक टाइम पर दुकानदार सामने से ब्रा निचे सरका देता है और श्रद्धा के काले बड़े निपल सामने आ जाते हैं. अब श्रद्धा के दोनों बड़े बड़े मम्में बाहर लटकने लगते हैं.

दुकानदार मानो पागल सा हो जाता है और वह भी उन्हें अपने मुंह में भरता है और खूब थूक लगा लगाकर चुसता है, खींचता है, दबाता है, जोर जोर से थप्पड़ मारता हे चुचियों पर, पूरी लाल कर देता है गोरी गोरी चुचियों को. श्रद्धा खुब मजे ले रही होती है, वह भूल चुकी है कि वह कहां और किसके साथ क्या कर रही है? वह बस मजे ले रही होती है इस ठरकी की..

ये जगह सेक्स करने के लिए सेफ नहीं है इसलिए दुकानदार वाले को श्रद्धा अपने घर बुलाती है. आगे की कहानी दुकानदार की जुबानी.

अगले दिन मैं उसके घर पहुंच गया, जाते ही बूब्स प्रेस करके हेलो किया. फिर मैंने गेट बंद कर दिया उसने पर्पल साड़ी पहनी थी स्लीवलेस ब्लाउज था परफ्यूम और फुल मेकअप. दोस्तों आप ये कहानी मस्ताराम डॉट नेट पर पढ़ रहे है ।

मैं उसे उठाकर बेडरूम में ले गया, पीछे से हग कर के उसकी नेक कुत्ते की तरह किस करने लगा, उसने भी रिस्पॉन्स किया, और पीछे मुड़कर कमर, सर और नाक पर किस किया, उसकी आंखें बार बार बंद हो रही थी. मैंने उसकी कमर पर किस करते हुए कहा सेक्सी यू आई लव यू. उसने मुझे और टाईट से हग किया, मैंने उस पर टॉप उतार दिया और उसके ब्रेस्ट मेरी आंखो के सामने थे.

मैंने अपना मुह उनमे डाल दिया और किस करने लगा, वह शरमा रही थी. मैंने उसका हाथ अपने हाथ में लिया और उसे अपनी गोद में बिठा दिया. अभी भी वह नजरें नहीं मिला रही थी. मैंने उसके होंठ और जीभ को सक करके स्मूच करना शुरु कर दिया..

मैंने अपने हाथ को उसकी चूची पर रखकर सहलाया. वह लंबी सांसे लेने लगी और मेरा लौड़ा उसकी पांव के बीच में घुस रहा था. फिर मैंने उसके कान में बोला, उसने मुस्कुराया और आँखे नीचे रखी. अब मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया. मैंने उसे बिठाया और उसके टी शर्ट, स्लिप और पेंट उतार दिए. मैंने अपने कपड़े भी उतार दिए. अब हम सिर्फ अंडरवियर में थे.

उसकी टाइट ब्रा में उसके बड़े बुब थे और पेट पर कोई चर्बी नहीं थी. मेचिंग पिंक पेंटि गीली हो चुकी थी, मैंने उसका सर ऊपर उठाया और कहा यह वह चीज है जिसे तुम देखना और फिल करना चाहती थी.. उसने मुझे हग कर लिया और मेरा कड़क लंड उसकी पांव पर रब कर रहा था. मैंने उसका ब्रा का हुक खोल कर उसके बूब को फ्री कर दिया.

मुझे तो रहा नहीं गया और मैंने पागलों की तरह उन्हें सक कर दिया, उसके बड़े बूब्स पर बाईट भी खूब किया. मेरा डिक तो बहुत ऊपर नीचे कर रहा था. वह मेरे बालों को बहुत जोर से पकडे हुए थी और उसकी बॉडी कांप रही थी.

फिर मैंने अपना हाथ उसकी पैंटी पर रखा और रब किया. वहां पर बाल थे जैसा की मुझे पसंद है, मैंने उसकी पैंटी उतार दी. पर वह अपने पांव जोड़कर छुपाने की कोशिश कर रही थी. मैंने उसका हाथ हटाकर उसके पांव खोल दीए वाह नेचुरल ब्यूटी बहुत बाल और बीच में दो लिप थे.

उसकी खुशबू मदहोश कर देने वाली थी, फिर मैंने उसके लिप पर किस किया. वह सिहर गई, मैंने जीभ से लिप को लिक कीया. वह सोल्टी था, पर मेरा मन कह रहा था कि बिना रुके चूसते रहो. वह कहने लगी, बस बहुत हो गया.

उसने मेरी जीभ और होंठ पर पेईन की वजह से बाइट किया और एक पॉइंट पर दोनों को जर्क महसूस हुआ और मेरा आधा लंड उसकी चूत में चला गया और उसकी आंखें बंद हो गई, और उसकी चूत से खून निकलने लगा, मैंने अपना लंड १० मिनट तक उसके अंदर रखा और अंदर बाहर करना शुरु कर दिया, उसको अब दर्द कम हो रहा था और वह इंजॉय करने लगी.

सविता भाभी वीडियो चाट न्यूज़ Apps Install करके तुरंत Bhabhi से बात करिये Download


One Response - Add Comment

Reply