-

रिया भाभी को बात करने के लिए नंबर यहाँ से Install करे और प्यार भरी सेक्सी बाते करिये [Download Number ]


loading...

बहन की चुदाई जन्मदिन पे : एक सच्ची कहानी बहन भाई के सेक्स की

loading...

मेरे प्यारे दोस्तों आज मैं आपको अपनी ज़िंदगी का खूबसूरत तोहफा जो मुझे मेरे जन्मदिन पे मिला वो थी अपनी ही बहन की चुदाई, आज मैं आपसे शेयर कर रहा हु, ये मेरा कोई मनगढंत कहानी नहीं है, ये मेरी ज़िंदगी की खूबसूरत रात की एक गुदगुदाती सी याद है जो मेरे साथ कल ही मेरे साथ हुआ है, मैं चाहता हु की आप भी मेरी इस अनुभव में शामिल हो, इसलिए आपका बहुत बहुत स्वागत है|

पहले मैं आपको बता दू की मैं नॉनवेज स्टोरी डॉट कॉम का नियमित पाठक हु, एक दिन भी ऐसा नहीं होता जब मैं इस वेबसाइट को ओपन नहीं करता, मुझे बहुत मज़ा आता है क्यों की यहाँ पे सब कहानियां बड़ी ही हॉट और सेक्सी होती है, 

मेरा नाम रोहन है मैं दिल्ली में रहता ही, मेरे साथ मेरी माँ और मेरी बड़ी बहन जो की 24 साल की है मैं अपने बहन से एक साल छोटा हु, मेरे पापा अमरीका में रहते है, मम्मी अभी 15 दिन पहले ही अमेरिका गयी है पापा के पास तो घर में मैं और मेरी बहन सोनाली ही रह रहे है. मेरी बहन बड़ी हु खूबसूरत लड़की है, उसका बूब की साइज मस्त है ना ज्यादा बड़ा और ना जयादा छोटा, मैं ऐसे ही बूब को पसंद करता हु, मेरी बहन अक्सर जीन्स और टॉप पहनती है, बाल उनके बड़े बड़े है, काफी गोरी और होठ बिना लिपस्टिक के ही पिंक है, ऐसा लगता है की गाल को अगर कास के चूस ले तो खून निकल जाये, इतनी कोमल है मेरी बहन |

मैं अक्सर रात में जब सोता था तो सोचते रहता था की कैसे अपनी बहन की चुदाई करू, कैसे वो अपनी बूब को टच करने दे, कैसे वो मुझे अपना दूध पिलाये यही सब सोचते रहता था मेरे दिमाग में एक आईडिया आया की क्यों ना मैं अपने जन्मदिन पे ही उनसे कह दू की मैं आपसे बहुत प्यार करता हु, इंतज़ार खत्म हुआ, और मेरा जनदिन आ गया, दीदी ने कहा की रोहन आज तुम्हारा बर्थडे है तुम अपने दोस्त को भी घर पे ही बुला लो, हमलोग मिल के पार्टी करेंगे, मैं तैयार हो गया, वो बोली बता तुम्हे क्या गिफ्ट चाहिए, मैं जा रही हु मॉल ले के आउंगी, तो मैंने कह दिया दीदी आपसे आज मैं मांग लूंगा अगर आप मुझे गिफ्ट देना चाहती हो तो दीदी बोली ठीक है, बर्थडे के बाद चलेंगे जो तुम्हे चाहिए ले लेना, मैंने कहा ओके.

शाम को करीब ७ बजे मेरे दोस्त आ गए और मैंने केक काटा, सबने मेरे मेरे लिए गिफ्ट लाया और फिर मैंने होटल से खाना मंगवाया, मेरे दोस्त डिनर कर के चले गए दीदी बोली चल रोहन मुझे अच्छा नहीं लग रहा है क्यों की मैं अभी तक तुमको गिफ्ट नहीं दिया, तो मैंने कहा मैं आज मांग लूंगा पर आपको देना पड़ेगा, तो दीदी बोली हां हां क्यों नहीं तुम मेरा प्यारा भाई है, अभी माँ पापा यहाँ नहीं है तो मैं ही तुम्हारा ख्याल रखूंगी, तुम बेहिचक मागो, मैंने कहा अगर आपने मन कर दिया तो, तो दीदी बोली नहीं यार मैं नहीं मन करुँगी, तो मैंने कहा आपको प्रोमिस करना पडेगा, हां चल प्रोमिस जो मांगेगा वो मैं दूंगी, पर बजट के बाहर मत मांग लेना, नहीं आपके पास है, आप दे सकती है, तो चल ठीक है मैं तुम्हे दूंगी तू मांग |

तो मैंने कहा ठीक है दीदी अगर आप मुझे कुछ देना चाह रही हो तो आप मुझे अपना बूब दिखा दो, दीदी गुस्से से लाल हो गयी और बोली बद्तमीज तुम्हारी ये हिम्मत कैसे हुई अपने बहन से ये बात कहते हुए तुम्हे शर्म नहीं आयी, एक बार भी नहीं सोचा की मैं क्या सोचूंगी, खरबदर तो ऐसी बात कभी की तो….. मैंने कहा “पहले ही मैंने कह दिया था की अगर आप दोगे तभी हां करो” ठीक है नहीं देना है तो….. दीदी बोली पता है अगर ये बात मैंने पापा को फ़ोन कर के बता दिया तो तुम्हारा क्या हाल होगा, हां हां पता है अगर आपने ऐसा किया तो मैं घर छोड़कर चला जाऊंगा, अगर आपको नहीं देना था तो प्रोमिस क्यों किया, फिर उनका गुस्सा शांत हो गया, बोली भाई ये गलत बात है, मैंने कहा कोई गलत बात नहीं है, मैं थोड़े ना कुछ कर रहा हु, एक बार देखने ही मांग रहा हु आपका क्या जायेगा, पर मेरा जन्मदिन का बेस्ट तोहफा होगा, दीदी चुप हो गयी मैंने कहा, दिखाओ ना प्लीज दीदी ने अपना टॉप ऊपर कर दिया और ब्रा से बहार निकाल के अपना आँख बंद कर ली.

मैंने कहा दीदी आप बहुत ही सुन्दर हो, क्या गजब का बूब है आपका, क्या मैं छूकर देखू तो बोली देख रोहन बस दिखा दिया अब तुम छूने की बात कर रहे हो , ये गलत है, मैंने कहा कुछ भी गलत नहीं है दीदी किसी को कुछ भी पता नहीं चलेगा, दीदी बोली चल ठीक है छू ले, और वो आँख बंद कर ली, मैंने चुने की बजाय उसपे किश कर लिया वो सिहर गयी और बोली ये गलत है मैंने कहा कुछ भी गलत नहीं है, अभी मैंने छुआ कहा, बोली चल जल्दी छू ले, मैंने एक हाथ से एक को और दूसरे हाथ से दूसरे को पकड़ा और हल्का हल्का दबाना सुरु कर दिया, दीदी सिहरने लगी, और अपने होठ को दांत से दबाने लगी, उनका बूब बड़ा ही कोमल और पिंक कलर का निप्पल था, मैंने तो देखते ही रह गया.

थोड़े देर बाद मैंने कहा दीदी ऊपर से आप अपना टॉप निकाल दो तो वो मान गयी, और मैंने उनके बूब को पिने लगा, वो भी मजे लेने लगी, खूब मस्ती में पी रहा था और वो भी सीई सीईई स्स्स्स्सीईईईईई आआआआआआआआआआह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह उउउउउउउउउउउउउउउउह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह कर रही ही, मैंने उनके पेंटी के अंदर हाथ दाल दिया, वो मेरा हाथ पकड़ ली, बोली नहीं यहाँ नहीं, मैंने रिक्वेस्ट किया की दीदी आप मुझे बहुत पसंद हो, एक बार प्लीज एक बार प्लीज प्लीज प्लीज. वो चुप हो गयी और मैं अंदर घुसा दिया, उनका छूट धधक रहा रहा गरम हो चूका था, चुत गीली हो चुकी थी, मैंने अपना टी शर्ट उतार दी और जीन्स भी वो आँख बंद कर के सिसकिया ले रही थी, मैंने उनको अपना लंड पकड़ा दिया, वो आँख खोल ली और बोली हाय कितना बड़ा है रे, कितना मोटा है, ओह्ह माय गॉड, तुम तो रियली में जवान हो गया है, क्या बात है रोहन, तू तो मर्द बन गया है, मैंने कहा हां दीदी, मैंने उनका पेंटी उतरने लगा तो वो मन कर दी, बोली नहीं ये नहीं मैंने कहा तुम मेरा लंड देख ली और जब मैं देखा चाह रहा हु तो आप मना कर रहे हो, वो चुप हो गयी. 

मैंने उनकी पेंटी को उतार दिया, मैंने कहा दीदी गजब का शेप है आपके ऊपर से निचे तक की बॉडी का, गजब की लग रही हो, वो शर्मा के लाल हो गयी मैंने कहा आई लव यू दीदी, और मैंने उनके टांगो को अलग करके चुत का चाटने लगा,वो मेरा बाल पकड़ ले चटवाने लगी, फिर वो बोली जो मर्ज़ी कर ले रोहन मैं तुम्हारी हु, और फिर मैंने अपने लंड को दीदी के चुत पे लगाया और कस के धक्का दिया पर पूरा नहीं गया, क्यों की आज वो पहली बार चुदवा रही थी, बोली धीरे धीरे डाल मैं वर्जिन हु, मैंने धीरे धीरे डाला पर खून आ ही गया, मैंने तो डर गया पर दीदी बोली डर मत मैंने पढ़ा है की पहली बार सेक्स करने के बाद खून आता है, बस क्या था मैंने जोर जोर से चोद रहा था और वो चुदवा रही थी, मैंने उनके चुत को पहाड़ के रख दिया वो बस आआह आआह आआह ऊऊह ओह्ह्ह्ह्ह कर रही थी मैंने उनके पिंक होठ को चूस चसु के लाल कर दिया उनकी दोनों चूचियाँ तन गयी थी, चेहरा लाल हो गया था, फिर वो मेरे चूतड़ को पकड़ के कस कस के चुदवाने लगी, मार चोद मुझे कस के चोद, ले रोहन ले ले अपनी बहन को, चोद ले, हाय हाय हाय ओह्ह्ह्ह्ह्ह गयी मैं गयी मैं गयी आआआआआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊछह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह्ह और वो शांत हो गयी मैंने भी अपना सारा माल उनके चुत में ही डाल दिया, फिर क्या था, रात भर में मैंने करीब ६ वार अपने बहन को चोदा, मज़ा गया था वो पहली रात बहन के साथ अब तो रोज हम दोनों पति पत्नी के तरह रह रहे है मैंने आज ३० कंडोम घर पे लाके रख लिया क्यों की दीदी बोली कंडोम उसे कर के करो, पर कभी कभी बिना कंडोम के भी चोद देता हु, आपको मेरी कहानी कैसे लगी शेयर और लिखे जरूर करे.

loading...

जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

सविता भाभी वीडियो चाट न्यूज़ Apps Install करके तुरंत Bhabhi से बात करिये Download


One Response - Add Comment

Reply