-

रिया भाभी को बात करने के लिए नंबर यहाँ से Install करे और प्यार भरी सेक्सी बाते करिये [Download Number ]


loading...

गांड फट गई मजे मजे में

loading...

लड़कियों जैसे चाल चलन करने वाले गांडुओं की hindi sex stories आप सभी दोस्तों को पसंद है तो पेश है मेरी यह पेशकश जहाँ मुझे एक अजीब आदत लगी हुयी थी जिससे सजा में मज़ा मिला..

सबसे पहले अपना परिचय देता हूँ मैं विनीत गोयल पानीपत हरियाणा का रहने वाला हूँ। मैं आपका ज्यादा समय न खराब करते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ।

मैं एक साधारण सा लडका था। मुझे लडकी बनना अच्छा लगता है। मैं अक्सर मौका मिलते ही अपनी बहन की ब्रा व पैन्टी पहन कर अपने आपको शीशे मे निहारता हूँ।

एक दिन बैठे बैठे यूँ ही सोचा कि क्यों न अपनी गांड मे लंड डलवा कर मजा लिया जाए। मेरी यही सोच मेरा सपना बन गई और अपना सपना पूरा करने के लिए मैंने अपनी प्यारी गांड के लिए लंड ढूँढना शुरू कर दिया।

जब बहुत कोशिश के बाद भी कोई लंड नही मिला तब मैंने सोचा क्यों ना फेसबुक पर ही किसी को पटाया जाए। वहाँ मैंने अकाउंट बनाया और लंड ढूँढना शुरू कर दिया।
बहुत से लंड वहाँ गांड के इन्तजार मे खडे हुए थे। मगर तब भी एक समस्या थी। कोई आने के लिए तैयार नही था और किसी के पास कमरा नही था।

फिर एक दिन किसी लडके की रिकवेस्ट आई वह भी पानीपत का ही रहने वाला था और उसके पास कमरा भी था। फिर हमने बातें की तब हमने शाम को मिलने का प्रोग्राम बनाया।

जब हम शाम को मिले तो पता चला हम एक दूसरे को पहले से जानते थे। तब मैंने उसे बोला हमारे बीच जो कुछ भी होगा वो हम दोनो के बीच रहेगा।
तभी उसने मुझे कपडे निकालने के लिए बोला तब मैंने अपनी पैन्ट और शर्ट उतार दी। अब मैं केवल ब्रा और पैन्टी मे था।
मैं उस ब्रा पैन्टी मे किसी लडकी से कम नही लग रहा था। वह मेरे होठों को चूमने लगा। मैंने भी किस करने मे देव (उस लडके का नाम) का पूरा साथ दिया कुछ देर किस करने के बाद उसका एक हाथ मेरी गांड पर चलने लगा।

यह सब मेरे साथ पहली बार हो रहा था मुझे बडा मजा आ रहा था। मैं अब लंड लेने के लिए बेताब हो उठा और मैंने देव का लंड अपने हाथ मे ले लिया।
उसका लंड करीब 7 इन्च का था। उसका लंड देखकर मेरी गांड गर्म हो गई लेकिन मुझे डर भी लग रहा था कि कहीं मेरी गांड न फट जाए। फिर सोचा जो होगा देखा जाएगा।

अपने हाथ से लंड सहलाने के बाद मैं उसका लंड अपने मुहं मे डाल कर चुसने लगा। मेरी इस हरकत से उसे मजा आ रहा था और अपनी आँखे बन्द करके जन्नत की सैर की कर रहा था।

मुझे भी बहुत मजा आ रहा था। करीब दस मिनट तक मैंने उसका लंड चूसा। देव को मजा आ रहा था उसने पूरा लंड मेरे मुहँ मे डाल दिया।
लंड मेरे गले मे लग रहा था वो मेरे मुहँ को चोदने लगा। और आहहहह आहहहहहह करते मेरे गले को अपने माल से भर दिया। मैं पूरा वीर्य अन्दर गटक गया और चाट चाटकर लंड साफ कर कर दिया।

फिर उसने मेरी पैन्टी उतार कर मेरी गांड पर चपत लगाने लगा। मार मार कर मेरी गांड लाल कर दी और फिर गांड पर किस करने लगा। उसने मेरी गांड को तेल से भर दिया और मैंने भी तेल से उसके लंड खूब मालिश की।
फिर देव ने मुझे उसकी कुतिया बनने को बोला तो मैंने उसके सामने आकर घुटने टिका दिए और अपनी गांड हिलाकर लंड को आमन्त्रण देने लगा। देव ने मेरी गांड के छेद पर अपना सुपारा टिका दिया और अन्दर की तरफ धक्का देने लगा। जैसे ही उसने अपना सुपाडा अन्दर डाला मैं दर्द से कराहने लगा। ‘आआआआआहहहहह ओओओहह हहहहह..’

मैं उससे लंड निकालने की विनती करने लगा पर उसने मेरी एक न सुनी और लंड अन्दर धकेलने लगा। मैं दर्द से चिल्ला रहा था। धीरे धीरे उसने पूरा लंड अन्दर डाल दिया।
अब वह कुछ देर के लिए रुका और फिर तेज तेज चुदाई करने लगा। अब मेरा दर्द कम हो गया था और अपनी चुदाई के आनन्द मे खोने लगा। 20 मिनट की धक्कापेल के बाद वह मेरी गांड मे ही झड गया।

फिर तो हम मौका मिलते ही चुदाई का प्रोग्राम बना लेते और खूब मजे करते। मैंने अपनी बहन की चुदाई उससे किस तरह करवाई वो आपको अपनी अगली कहानी मे बताउँगा।
आप अपने ईमेल मुझे भेजिएगा।
नमस्ते.. आपका गांडू दोस्त
विनीत
[email protected]

 

loading...

जिसकी कहानी पढ़ी उसका नंबर यह से डाउनलोड करलो Install [Download]

सविता भाभी वीडियो चाट न्यूज़ Apps Install करके तुरंत Bhabhi से बात करिये Download


One Response - Add Comment

Reply